Wednesday, 2 October 2019

My name is not important. What is important is to spread my ideas

Dr A P J Abdul Kalam, President of India, 22 Sep 2006 : It is indeed great spiritual experience to visit Swami Vivekananda Memorial Rock.  Swamiji Said  " My name is not important. What is important is to spread my ideas."

Shree Lal Krishna Adwani, 22 Sep 1973 - आज तीसरी बार विवेकानन्द शिला पर आने का अवसर प्राप्त हुआ है और स्मारक के दर्शन करने का सौभाग्य मिला है| स्वामी विवेकानंदजी की ही भांति स्मारक भी प्राचीन और अर्वाचीन का यह अद्भुत समन्वय है| भारत के इस दक्षिणतम छोर पर आने वाले सभी यात्रियों के लिए स्वदेशी एवं विदेशी -यह एक उत्तम प्रेरणा -स्त्रोत है| सारा राष्ट्र इस कल्पना के रचयेताओं का ऋणी रहेगा |

Shree V.G. Deshpande, MLC Buldhana on 22 Sep 1973 - Visit to kanyakumari has always been exciting & moving . Before  17  years  I came for darshan of mother Kanya kumari & now have memorial of Swami Vivekananda. has not only added to the beauty of the spot, but has helped in revealing the inner significance & spiritual meaning of the soul of mother India. It always was and continue to be the place of pilgrimage to the citizens of world. I must congratulate the memorial committee for conceiving the really noble plan of the structure , STATUES & the dhyan mandir. I would recommend every one to pass maximum time in the meditation HALL. I would suggest that there should be boards in all Indian languages explaining the structures.

Prof Sher Singh, Minister of State for communication on 23 Sep - आज इस महान स्मारक को देखने का सौभाग्य प्राप्त हुआ| एक महान तपस्वी सन्यासी का यह महान स्मारक स्वामी विवेकानन्द जी की अमर स्मृति रहेगी| इसमें सभी पत्थर वास्तव में उत्तम कोटि का है और सारा ही काम उत्तम रीति से किया गया है|बहुत योजना बद्ध कार्य है और यह अभी चलता ही रहेगा जब तक कि यह पूर्ण रूप से समुद्र की सब हिलोरों और उतार चढ़ावों से रक्षा करने योग्य हो जाये| श्री एकनाथ रानडे तथा अन्य सभी प्रबंधक और शिल्पकार तथा कार्यकर्ता बधाई के पात्र है| मेरी धर्मपत्नी भी मेरे साथ आई है और मैंने जितना आध्यात्मिक लाभ थोड़े से क्षणों में लिया उससे कहीं अधिक वह ले पाई है |

Shree S. Gurmit Singh, Food Minister of Punjab  on 23 Sep - MY VISIT OF MEMORIAL HAS BEEN A MOVING AND INSPIRING EXPERIENCE FOR ME. SET IN THE MOST BEAUTIFUL SOURROUNDING; THIS MEMORIAL  MAY ULTIMATELY BECOME A CENTER OF SWAMI VIVEKANANDA'S  TEACHINGS.


 

 

 

 

 

No comments:

Post a comment